चौदह  भाषाओं में उपलब्ध होगी 'अयोध्या की रामलीला'

चौदह  भाषाओं में उपलब्ध होगी 'अयोध्या की रामलीला'

अयोध्या [महामीडिया] 'अयोध्या की रामलीला' उर्दू और भोजपुरी समेत 14 भाषाओं में डिजिटल रूप में उपलब्ध होगी। इस बार भाजपा सांसद मनोज तिवारी और रवि किशन के अलावा कई अभिनेता भी इसमें हिस्सा लेंगे। रामलीला का मंचन अयोध्या में सरयू नदी के किनारे स्थित लक्ष्मण किला में होगा, जो निर्माणाधीन राम मंदिर से कुछ किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। आयोजन समिति ने कहा कि कोविड-19 महामारी के मद्देनजर 17 से 25 अक्टूबर के बीच सीमित दर्शकों की मौजूदगी में इसका मंचन होगा, लेकिन केबल टीवी, यूट्यूब और अन्य सोशल मीडिया मंचों पर इसे प्रसारित किया जाएगा। रामलीला के आयोजकों ने कहा कि मनोज तिवारी और रवि किशन के अलावा कई बॉलीवुड और टीवी कलाकार भी इस रामलीला का हिस्सा होंगे।अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर लोगों में भारी खुशी है और यह भगवान राम की जन्मस्थली पर भव्य रामलीला के आयोजन की प्रेरणा है। मनोज तिवारी ने कहा कि अयोध्या की रामलीला की एक प्रमुख विशेषता यह है कि यह भोजपुरी, उर्दू, तमिल, तेलगु, बंगला और अंग्रेजी समेत 14 भाषाओं में डिजिटल रूप में उपलब्ध होगी। 
 

सम्बंधित ख़बरें