महामीडिया न्यूज सर्विस
महर्षि विद्या मंदिर स्कूल महत्वपूर्ण भूमिका निभायें- ब्रह्मचारी गिरीश

महर्षि विद्या मंदिर स्कूल महत्वपूर्ण भूमिका निभायें- ब्रह्मचारी गिरीश

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 327 दिन 5 घंटे पूर्व
28/10/2018
भोपाल (महामीडिया) महर्षि विद्या मंदिर वार्षिक प्राचार्य संगोष्ठी का आज तीसरा दिवस था जिसका आयोजन महर्षि आनंद निकेतन, भोजपुर मंदिर मार्ग, कीरत नगर, भोजपुर में हो रहा है। इस अवसर पर महर्षि विद्या मंदिर समूह के समस्त स्कूलों के प्राचार्यों को संबोधित करते हुए महर्षि विद्या मंदिर समूह के चेयरमैन ब्रह्मचारी गिरीश ने कहा कि आधुनिक विज्ञान एकांगी है और वह पूर्ण ज्ञान नहीं है। जबकि चेतना विज्ञान एक पूर्ण ज्ञान है और वह एकांगी नहीं है। इसलिए हमें भावातीत ध्यान के चार प्रमुख लाभों- मस्तिष्क का पूर्ण लाभ, स्वास्थ्य में सुधार, व्यवहार में लाभ एवं विश्व शांति के लिए वैदिक विज्ञान के प्रसार में महर्षि विद्या मंदिर स्कूल महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। जो ज्ञानी लोग हैं वह आम आदमी को बताने के लिए विभिन्न चरणों में जानकारी अथवा ज्ञान दें ताकि सामान्य व्यक्ति का मस्तिष्क उसे ग्रहण कर सके। इस तरह इस ज्ञान को स्कूल में बच्चों सहित उनके अभिभावकों के माध्यम से संपूर्ण समाज में वृहद रूप से दिये जाने की संभावनायें मौजूद हैं जिसमें हम सबको ध्यान देना चाहिए।
इस अवसर पर महर्षि महेश योगी वैदिक विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. भुवनेश शर्मा एवं डॉ. ऐनी, प्रतिनिधि, इंटरनेशनल फाउंडेशन आफ कांसेसशनल वेस्ड एजूकेशन ने महर्षि विद्या मंदिर समूह के स्कूलों में आगामी शिक्षण सत्र से लागू किये जाने वाले पाठ्यक्रम को सभी के साथ साझा किया जो कि चेतना विज्ञान विषय पर है। इस संगोष्ठी में महर्षि विद्या मंदिर समूह के निदेशक, शिक्षा सी. डी. शर्मा एवं महर्षि विद्या मंदिर समूह के कार्यकारी निदेशक प्रकाश जोशी भी उपस्थित थे एवं अपने सत्रों में सभी प्राचार्यों का आवश्यक मार्गदर्शन किया। इस तीन दिवसीय वार्षिक संगोष्ठी का आयोजन 26 अक्टूबर से किया जा रहा है जिसका आज अंतिम दिन है। इसमें महर्षि विद्या मंदिर समूह के पूरे देश के 17 राज्यों में फैले 170 से अधिक स्कूलों के प्राचार्य, निदेशक, उपनिदेशक एवं सहायक निदेशक शामिल हो रहे हैं। 
और ख़बरें >

समाचार