महामीडिया न्यूज सर्विस
नवरात्र के आठवे दिन होती है माता महागौरी की पूजा

नवरात्र के आठवे दिन होती है माता महागौरी की पूजा

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 191 दिन 3 घंटे पूर्व
13/04/2019
भोपाल (महामीडिया) नवरात्र के आठवें दिन दुर्गा की आठवीं शक्ति माता महागौरी की उपासना की जायेगी। महागौरी का रंग पूर्णतः गोरा होने के कारण इन्हें महागौरी कहा जाता है। आज के दिन महागौरी की उपासना करने से धन-सम्पत्ति में वृद्धि होती है और व्यक्ति के अंदर असंभव को संभव बनाने की शक्ति उत्पन्न होती है। अतः इन सब चीज़ों की प्राप्ति के लिये देवी मां की उपासना करें।
सर्वमङ्गल माङ्गल्ये शिवे सर्वार्थ साधिके।
शरण्ये त्र्यम्बके गौरी नारायणी नमोsस्तुते।।
आज के दिन आपको इस मंत्र का 11 बार जप  महागौरी के इस मंत्र का जप भी करना चाहिए। आज महाअष्टमी के दिन देवी दुर्गा के महागौरी स्वरूप का निमित्त उपवास किया जाता है। शास्त्रों के अनुसार मान्यता है कि महागौरी को शिवा भी कहा जाता है। इनके हाथ में दुर्गा शक्ति का प्रतीक त्रिशूल है तो दूसरे हाथ में भगवान शिव का प्रतीक डमरू है। अपने सांसारिक रूप में महागौरी उज्ज्वल, कोमल, श्वेत वर्णी तथा श्वेत वस्त्रधारी और चतुर्भुजा हैं। इनके एक हाथ में त्रिशूल और दूसरे में डमरू है तो तीसरा हाथ वरमुद्रा में हैं और चौथा हाथ एक गृहस्थ महिला की शक्ति को दर्शाता हुआ है। महागौरी को गायन और संगीत बहुत पसंद है। ये सफेद वृषभ यानी बैल पर सवार रहती हैं। इनके समस्त आभूषण आदि भी श्वेत हैं। महागौरी की उपासना से पूर्वसंचित पाप भी नष्ट हो जाते हैं।
और ख़बरें >

समाचार