महामीडिया न्यूज सर्विस
स्वास्थ्यः बहुत फायदेमंद है मशरूम

स्वास्थ्यः बहुत फायदेमंद है मशरूम

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 42 दिन 18 घंटे पूर्व
06/05/2019
भोपाल (महामीडिया) मशरूम स्वास्थ्यवर्धक एवं औषधीय गुणों से युक्त है। यह आसानी से पाचक भी है और बीमारियों को दूर करने में भी मददगार है। इसमें एमीनो एसिड, मिनरल, विटामिन जैसे पौष्टिक तत्व भरपूर मात्रा में पाये जाते हैं। छतरी के आकार के मशरूम को चीन में महा औषधि तो रोम के लोग इसे र्इश्वर का आहार मानते हैं। विटामिन डी का एकमात्र नेचुरल जरिया है मशरूम। यही नहीं ये उन गिने-चुने फूड में शामिल है जिनमें जर्मेनियम होता है। जर्मेनियम एक मिनरल है जो शरीर में ऑक्सीजन का सही इस्तेमाल सुनिश्चित करता है। बहुत से मशरूम में सेलिनियम पाया जाता है, जो एंटी ऑक्सीडेंट होता है. इसके अलावा मशरूम में कॉपर, नियासिन, पोटेशियम और फॉस्फोरस भी भरपूर होता है. इतना ही नहीं मशरूम प्रोटीन, विटामिन सी और ऑयरन का भी अच्छा सोर्स है. और प्रत्‍येक प्रकार के पोषक तत्‍व हमारे शरीर को स्‍वस्‍थ बनाने के लिए कार्य करते हैं। इसमें फैट, कैलोरी या कार्बोहाइड्रेट की मात्रा बहुत ही कम होती है। लेकिन इसके अलावा भी इसका इस्तेमाल शरीर में नई स्फूर्ति और ऊर्जा भर देता है। मशरूम में इनसॉल्यूबल चिटिन और बीटा ग्लूकान होता है जो फाइबर का एक प्रकार है और सेहत के लिए बहुत ही उपयोगी होता है. डाइजेशन के लिए चिटिन जरूरी होता है। चिटिन खाने के बाद शुगर का स्तर बनाए रखता है और कॉलेस्ट्रॉल नियंत्रण में रखता है. आमतौर पर मिलने वाला व्हाइट बटन मशरूम प्रोस्टेट कैंसर की रोकथाम में बहुत काम का साबित हुआ है. यही नहीं रिसर्च से पता चला है कि इसमें ब्रेस्ट कैंसर को भी काबू करने की क्षमता है। टन मशरूम का पाउडर वजन के नियंत्रण में बहुत फायदेमंद साबित हुआ है। मशरूम कैल्शियम का अच्छा स्रोत होता है जो हड्डियों के बनने से लेकर उनकी मजबूती तक के लिए जरूरी होता है। डायट में इसकी बैलेंस मात्रा लेने से उम्र बढ़ने के साथ होने वाली हड्डियों की बीमारी ऑस्टियोपरोसिस, जॉइंट पेन से बचा जा सकता है। मशरूम में प्रोटीन से लेकर विटमिन ई और सिलेनियम जैसे कई न्यूट्रिएंट्स पाए जाते हैं जो न केवल स्किन और बालों को हेल्दी रखते हैं बल्कि हार्ट डिजीज से भी बचाते हैं। डायबीटीज की समस्या से जूझ सहे मरीजों के लिए मशरूम काफी फायदेमंद होता है। मशरूम फैट, कोलेस्ट्रॉल, हाई प्रोटीन की अधिकता को बैलेंस करने के लिए कारगर होता है। ये नैचरल इन्सुलिन और एंजाइम के तौर पर काम करता है। अनीमिया के शिकार लोगों के ब्लड में आयरन की भारी मात्रा में कमी हो जाती है जिससे थकान, चक्कर और पाचन संबंधी तमाम परेशानियां होने लगती हैं। मशरूम में आयरन की भरपूर मात्रा पाई जाती है जिसका लगभग 90 प्रतिशत बॉडी को मिलता है जो रेड ब्लड सेल्स के बनने और बॉडी के सही फंक्शन के लिए बहुत ही जरूरी होता है। मेटाबॉलिज्म मशरूम में विटमिन बी होता है जो कि भोजन को ग्लूकोज में बदल कर ऊर्जा पैदा करता है। विटामिन बी2 और बी3 इसके लिए काफी अच्छा है।

और ख़बरें >

समाचार

MAHA MEDIA NEWS SERVICES

Sarnath Complex 3rd Floor,
Front of Board Office, Shivaji Nagar, Bhopal
Madhya Pradesh, India

+91 755 4097200-16
Fax : +91 755 4000634

mmns.india@gmail.com
mmns.india@yahoo.in