महामीडिया न्यूज सर्विस
प्रज्ञा-दिग्विजय से चुनाव आयोग ने मांगा चुनाव खर्च का ब्यौरा

प्रज्ञा-दिग्विजय से चुनाव आयोग ने मांगा चुनाव खर्च का ब्यौरा

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 122 दिन 11 घंटे पूर्व
16/05/2019
भोपाल (महामीडिया) मध्यप्रदेश में लोकसभा की 21 सीटों पर मतदान निपटते ही चुनाव आयोग प्रत्याशियों के खर्च के हिसाब -किताब फायलन कर रहा है. आयोग ने भोपाल लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह और बीजेपी प्रत्याशी प्रज्ञा ठाकुर को फिर से नोटिस थमाया है. प्रदेश की सबसे हाईप्रोफाइल मानी जानी वाली इस सीट से खड़े इन प्रत्याशियों ने खर्च का जो ब्यौरा दिया था, आयोग उससे संतुष्ट नहीं है. इसलिए दोनों को फिर से नोटिस भेजा गया है. रिटर्निंग अधिकारी और भोपाल कलेक्टर सुदाम खाडे ने यह नोटिस जारी किया है.
चुनाव आयोग ने फिर से दिग्विजय सिंह और प्रज्ञा ठाकुर को नोटिस भेजा है. दोनों के लिए ये तीसरा नोटिस है. भोपाल से खड़े हुए इन दोनों प्रत्याशियों से उनके चुनाव खर्च का ब्यौरा मांगा है. सूत्रों की मानें तो आयोग को शक है कि दोनों प्रत्याशियों ने तय समय सीमा से ज़्यादा खर्च किया है. लेकिन हिसाब कम का दिया है. दरअसल, मतदान निपटते ही आयोग ने सभी प्रत्याशियों के खर्च का पाई-पाई का हिसाब लेना शुरू कर दिया है.
भोपाल सीट से 30 प्रत्याशी मैदान में थे. सभी से हिसाब मांगा गया है. लेकिन मुख्य मुकाबला दिग्विजय सिंह और प्रज्ञा ठाकुर के बीच होने के कारण इन दो बड़े दलों के नेताओं ने प्रचार भी ज़ोर-शोर से किया था. आयोग ने इन दोनों से 9 मई तक के खर्चे का हिसाब मांगा है. आयोग ने साध्वी से 15 लाख 65 हजार 427 रुपए का तो दिग्विजय से 25 लाख 63 हजार 190 रुपए हिसाब मांगा था. इसके लिए आयोग ने नोटिस भी जारी किया था, लेकिन दोनों ने जो जवाब भेजा आयोग उससे संतुष्ट नहीं था. इसलिए अब उसने तीसरा नोटिस थमा दिया है.
दरअसल बीजेपी और कांग्रेस ने खर्च का जो हिसाब आयोग को सौंपा है वह व्यय रजिस्टर और शेडो रजिस्टर के हिसाब से कम है.इसके अलावा अन्य प्रत्याशियों को भी नोटिस जारी कर हिसाब मांगा गया है. इनमें महेन्द्र कटियार, प्रवीण कुमार और देवेन्द्र प्रकाश मिश्रा भी शामिल हैं.
और ख़बरें >

समाचार