महामीडिया न्यूज सर्विस
नायडू की कोशिशें जारी- राहुल गांधी, शरद पंवार से मिले दूसरी बार

नायडू की कोशिशें जारी- राहुल गांधी, शरद पंवार से मिले दूसरी बार

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 27 दिन 12 घंटे पूर्व
19/05/2019
दिल्ली (महामीडिया)  लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण के मतदान और नतीजों से पहले ही विपक्षी खेमे ने नई सरकार बनाने की संभावनाओं को लेकर साझा मोर्चा बनाने की कसरत शुरू कर दी है। यह कवायद क्षेत्रीय दल तेलुगु देसम पार्टी (तेदेपा) की ओर से की गई है। तेदेपा प्रमुख और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने रविवार को विपक्षी दलों के नेताओं राहुल गांधी, सीताराम येचुरी समेत अन्य से दूसरे दौर की मुलाकात की।
शुक्रवार से दिल्ली में डेरा जमाए नायडू लगातार विपक्षी नेताओं से मिलकर तीसरे मोर्चे की सरकार बनाने की कवायद में लगे हैं। राहुल गांधी व अन्य नेताओं से मुलाकात में नायडू ने इन नेताओं के साथ सरकार बनाने की पहल पर चर्चा की।
इससे पहले शनिवार को भी नायडू ने बसपा सुप्रीमो मायावती और सपा प्रमुख अखिलेश यादव से नायडू की मुलाकात विपक्षी गोलबंदी के लिहाज से बेहद अहम मानी जा रही है। राहुल से विकल्पों पर चर्चाचंद्रबाबू नायडू ने शनिवार सुबह राहुल गांधी से मिलकर सरकार बनाने के विकल्पों से लेकर नेतृत्व जैसे जटिल मसलों पर कांग्रेस का रुख जाना। कांग्रेस ने शुक्रवार को ही साफ कर दिया था कि वह सभी विपक्षी दलों के साथ मिलकर एक साझा प्रगतिशील गठबंधन सरकार का नेतृत्व करने को तैयार है।
दरअसल, नायडू की पहल पर कांग्रेस का सकारात्मक रुख एक तरह से फेडरल फ्रंट के बहाने विपक्षी खेमे में सेंध लगाने की तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) प्रमुख के. चंद्रशेखर राव की कोशिशों को पंचर करने का दांव भी माना जा रहा है। चंद्रशेखर राव चुनाव नतीजों के बाद क्षेत्रीय दलों के फेडरल फ्रंट की कांग्रेस के समर्थन से सरकार बनाने के हिमायती हैं। वह भाजपा को रोकने के नाम पर कांग्रेस को तीसरे मोर्चे जैसी सरकार का समर्थन करने के लिए बाध्य करना चाहते हैं। चंद्रशेखर राव के दांव को नाकाम करने की इसी कोशिश में चंद्रबाबू ने राकांपा नेता शरद पवार से भी विपक्ष की वैकल्पिक सरकार की संभावनाओं पर चर्चा की। पवार विपक्षी खेमे के उन नेताओं में शामिल हैं जिनकी चुनाव बाद विपक्षी एकजुटता में अहम भूमिका मानी जा रही है।
और ख़बरें >

समाचार