महामीडिया न्यूज सर्विस
आज विश्व तंबाकू निषेध दिवस है

आज विश्व तंबाकू निषेध दिवस है

admin | पोस्ट किया गया 83 दिन 11 घंटे पूर्व
31/05/2019
नई दिल्ली (महामीडिया) आज विश्व तंबाकू निषेध दिवस है।हर वर्ष पूरे विश्व में 31 मई को  'विश्व तंबाकू निषेध दिवस' मनाया जाता है, जिसका उद्देश्य है धूम्रपान करने से होने वाली बीमारियों को लेकर जागरुकता फैलाना। 1987 से इस दिवस का आयोजन हो रहा है। इस दिन सरकारी और गैर-सरकारी संगठन जागरूकता फैलाने वाले कार्यक्रमों का आयोजन करते हैं। सिगरेट पीने से कई नुकसान होते हैं। सिगरेट या बीड़ी के धुएं में सबसे हानिकारक रसायनों में से कुछ निकोटीन, टार, कार्बन मोनोऑक्साइड, हाइड्रोजन साइनाइड, फॉर्मलाडीहाइड, आर्सेनिक, अमोनिया, सीसा, बेंजीन, ब्यूटेन, कैडमियम, हेक्सामाइन, टोल्यूनि आदि हैं।  स्मोकिंग करने से सबसे ज्यादा फेफड़ों के कैंसर की संभावना होती है। एक शोध के अनुसार तम्बाकू धूम्रपान और फेफड़े के कैंसर के खतरे के बीच एक मजबूत संबंध है। यहीं नहीं स्मोकिंग करने वाली महिलाओं को पुरुषों से ज्यादा फेफड़े का कैंसर होने का खतरा रहता है। स्मोकिंग करने से श्वसन में कमी, खांसी और कफ उत्पादन संबंधी समस्याएं उत्पन्न हो सकतीं हैं। इसके अलावा, धूम्रपान में मौजूद कार्बन मोनोऑक्साइड खून में प्रवेश करता है और आपकी ऑक्सीजन-क्षमता को सीमित करता है। इससे कफ को बढ़ाता है जिससे सांस लेने में कठिनाई होती है। सिगरेट में निकोटिन सहिक कई विषैले पदार्थ पाए जाते है। जो कि हार्ट अटैक, स्ट्रोक जैसी कई समस्या हो सकती है। जिसके कारण बोल्ने की शक्ति, सुनने की क्षमता, आंशिक अंधापन की समस्या हो सकती है।  इसमें पाया जाने वाला ग्लूकोज आपके चयापचय को बी बिगाड़ देता है। जो कि टाइम 2 डायबिटीज का कारण बनता है। दरअसल धुएं में आर्सेनिक, फार्मलाडिहाइड और अमोनिया शामिल हैं। सिगरेट में मौजूद निकोटीन मस्तिष्क के लिए हानिकारक है और डिमेंशिया या अल्जाइमर रोग की शुरूआत को बढ़ाता है।
और ख़बरें >

समाचार