महामीडिया न्यूज सर्विस
देश और प्रदेश के कई हिस्सों का पारा 45 डिग्री के पार

देश और प्रदेश के कई हिस्सों का पारा 45 डिग्री के पार

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 13 दिन 14 घंटे पूर्व
04/06/2019
भोपाल (महामीडिया) भीषण गर्मी से देश के कई हिस्से लगातार तप रहे हैं। सोमवार को नौतपा खत्म होने के बाद मौसम वैज्ञानिकों ने तापमान में गिरावट होने की संभावना जताई है। लेकिन मध्यप्रदेश के कुछ हिस्सों में आज भी पारा 45 के करीब रहेगा। वहीं रविवार को देश में सबसे गर्म रहे राजस्थान के चुरू में भी पारा नीचे गया है। आज यहां 46 डिग्री तापमान के साथ लोगों को लू का भी सामना करना पडे़गा। वहीं राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में आज रिमझिम बारिश की संभावना मौसम वैज्ञानिकों ने जताई है। 6 जून को मानसून के केरल पहुंचने के आसार हैं।
सोमवार को साल के नौ सबसे गर्म दिन समाप्त हो गए। लेकिन मध्यप्रदेश के सागर और मुरवारा में मंगलवार का अधिकतम तापमान 45 डिग्री से अधिक दर्ज किया गया है। वहीं छतरपुर, टीकमगढ़, अशोकनगर और बालाघाट में यह 44 डिग्री रहा। मंगलवार को प्रदेश में सबसे कम तपिश इंदौर में रही। यहां तापमान 38 डिग्री रहा। मौसम वैज्ञानिकों को अनुसार प्रदेशवासियों के लिए अच्छी खबर यह है कि अगले 2-4 दिनों में केरल में मानसून पहुंचने से तपन में कमी हो सकती है।
थार के रेगिस्तान में बसे राजस्थान में गर्मी चढ़ते जेठ महीने से साथ अपने रौद्र रूप में आ गई है। राज्य के अधिकांश हिस्से लू की चपेट में हैं और गर्मी ने लोगों का जीना मुहाल कर दिया है। बीते 48 घंटों में चुरू में पारा 50.8 डिग्री और गंगानगर में 49 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग के अनुसार आने वाले 24 घंटों में तापमान में तो गिरावाट देखने को मिल सकती है लेकिन राज्य को गर्म हवाओं से कोई राहत नहीं मिलेगी। मंगलवार को भी यहां के अजमेर, जयपुर, कोटा, बीकानेर और जैसलमेर में तापमान 45 डिग्री से अधिक दर्ज किया गया।
उत्तरप्रदेश में तापमान में उतार चढ़ाव जारी रहने से मौसम खतरनाक हो गया है। लू लगने से पिछले चार दिन में दो लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं दिल्ली-एनसीआर में तेज धूप और गर्मी से थोड़ी राहत मिली है। मंगलवार सुबह हल्की हवाओं ने यहां लोगों को राहत प्रदान की। बुधवार को भी दिल्ली में कमोबेश ऐसा ही मौसम रहने की संभावना है।
गर्मी ने बनाया नया रिकॉर्ड
राजस्थान के चुरू में इस साल पारा 50 डिग्री के पार दिखा। हालांकि मौसम वैज्ञानिकों ने यहां पारा 48 डिग्री के करीब बताया है। उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में गर्मी ने 25 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ एक नया रिकॉर्ड बनाया है। यहां पारा 48.6 डिग्री तक पहुंच गया। इसके पहले 
चेन्नई में पानी का संकट गहरा गया है। हालात यह है कि चेन्नई मेट्रो ने एसी बंद कर दिए हैं। शहर का जलस्तर 70 साल में सबसे नीचे चला गया है। 2018 में नीति आयोग ने चेेतावनी दी थी कि यदि चेन्नई की आबादी और प्रदूषण इसी तरह बढ़ता गया तो आने वाले कुछ दशकों में यहां ताजे पानी के स्त्रोत खत्म हो जाएंगे।

-रजत गुप्ता

और ख़बरें >

समाचार