महामीडिया न्यूज सर्विस
भीषण गर्मी ने भगवान और मंन्दिर में भी बढ़ाया अन्तर

भीषण गर्मी ने भगवान और मंन्दिर में भी बढ़ाया अन्तर

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 76 दिन 3 घंटे पूर्व
08/06/2019
जयपुर (महामीडिया) एक ओर जहां देश के अधिकतर राज्य भीषण गर्मी से तप रहे हैं। वहीं राजस्थान में बढ़ती गर्मी ने भी भगवान और मंन्दिर में अंतर करवा दिया है। प्रदेश में अधिकांश निजी मन्दिरों में एयर कंडीशन या कूलर चल रहे हैं जबकि देवस्थान विभाग के तहत आने वाले मन्दिर पंखे तक को तरस रहे हैं। इन मंदिरों में भक्तों के साथ भगवान भी गर्मी से परेशान हैं। जयपुर के ठाकुर जी का दरबार भक्तों को खुशियों और समृद्धि से सराबोर कर देता है, लेकिन पसीने से सराबोर ठाकुर जी की तरफ किसी का ध्यान नहीं है। सरकारी मन्दिरों में पंखे नहीं होने के चलते यहां भक्त से लेकर भगवान सभी पसीने से लथपथ हैं। ज्येष्ठ के महीने में मंदिरों में जल उत्सव मनाया जा रहा है। जहां ठाकुरजी को फव्वारे चलाकर राहत दी जा रही है। वहीं दूसरी और देवस्थान विभाग के मंदिरों में ठाकुरजी को पंखों की गर्म हवा भी नसीब नहीं है। जबकि निज मन्दिरों में एसी चल रहे हैं और इसके चलते अब तो सरकार में महत्वपूर्ण ओहदों पर बैठे लोग भी सरकारी मन्दिर की बजाय निजी मन्दिरों की तरफ़ ही रुख कर रहे हैं। माणक चौक स्थित मंदिर मदन मोहनजी, बड़ी चौपड़ स्थित मंदिर श्रीचंद्रबिहारजी, छोटी चौपड़ स्थित जानकी बल्लभ मंदिर पुरानी बस्ती स्थित राधा वल्लभ मंदिर, मदन बिहारीजी, फतेहकुंज बिहारी मंदिर, बगरु वालों का रास्ता स्थित चर्तुभुजजी का मंदिर, त्रिपोलिया स्थित मंदिर श्री मेहताब बिहारीजी सहित कई मंदिरों में या तो पंखे है नहीं और यदि है भी तो खराब पड़े हैं। 
और ख़बरें >

समाचार