महामीडिया न्यूज सर्विस
ICC ने आधिकारिक रूप से लॉन्च की वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप

ICC ने आधिकारिक रूप से लॉन्च की वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप

admin | पोस्ट किया गया 83 दिन 23 घंटे पूर्व
29/07/2019
दिल्ली (महामीडिया) हाल ही में आपने 50 ओवरों के क्रिकेट वर्ल्डकप का भरपूर मजा लिया है। अगले साल यानि 2020 में टी20 वर्ल्डकप का रोमांच भी देखने लायक होगा। बात क्रिकेट के रोमांच की हो तो टेस्ट क्रिकेट पीछे छूटता दिखता है, लेकिन अब आईसीसी ने टेस्ट क्रिकेट में भी रोमांच भरने के लिए वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप की घोषणा कर दी है। यानि अब दुनियाभर के क्रिकेटर टेस्ट में बादशाहत के लिए भी आपस में भिड़ते दिखेंगे।
हाल में हुए 50 ओवरों के क्रिकेट वर्ल्डकप में दुनियाभर की टीमों ने एक-दूसरे को कड़ी टक्कर दी और अंत में मेजबान इंग्लैंड को विजेता घोषित किया गया। हालांकि, पूरा वर्ल्डकप ही रोमांचक था, लेकिन फाइनल का टाई होना और फिर सुपरओवर में भी किसी टीम के न जीत पाने से वह मैच रोमांच की पराकाष्ठा तक पहुंच गया था। 
भारतीय कप्तान विराट कोहली का कहना है, 'हम क्रिकेट के इस सबसे लंबे फॉर्मेट में आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप का बड़ी बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। टेस्ट क्रिकेट हमेशा ही काफी चैलेंजिंग होती है और यह परंपरागत फॉर्मेट खिलाड़ियों को संतुष्टी भी प्रदान करता है। टीम इंडिया ने पिछले कुछ सालों के दौरान टेस्ट में अच्छा प्रदर्शन किया है और हम इस चैम्पियनशिप में अपनी संभावनाओं को अच्छे से प्रदर्शित करेंगे।'
चैम्पियनशिप के दौरान अगले दो साल में कुल 27 सीरीज के तहत 71 टेस्ट मैच खेले जाएंगे। इस दौरान चोटी पर रहने वाली दो टीमें जून 2021 में ब्रिटेन में आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियन का फाइनल खेलेंगी। हर टीम तीन घरेलू सीरीज और तीन सीरीज विदेशी जमीन पर खेलेंगी। हर मैच के लिए टीमों को प्वाइंट मिलेंगे। हर सीरीज में 120 प्वाइंट होंगे और जितने भी मैच उस सीरीज में खेले जाएंगे, उनमें बराबार बांट दिए जाएंगे। उदाहरण के लिए दो मैचों की सीरीज में हर मैच के लिए 60 प्वाइंट होंगे, जबकि तीन मौचों की सीरीज में हर मैच के लिए 40 प्वाइंट रखे जाएंगे। टाई हुए टेस्ट मैच में 50 फीसद प्वाइंट दिए जाएंगे, जबकि ड्रॉ मैच में 3:1 प्वाइंट उपलब्ध होंगे। चैम्पियनशिप के दौरान कम से कम दो मैच और अधिकतम पांच मैचों की सीरीज दो टीमें खेल सकती हैं।
और ख़बरें >

समाचार