महामीडिया न्यूज सर्विस
भूपेन हजारिका को मरणोपरांत भारत रत्न

भूपेन हजारिका को मरणोपरांत भारत रत्न

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 41 दिन 4 घंटे पूर्व
08/08/2019
दिल्ली (महामीडिया) स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने तीन नामचीन हस्तियों को भारत रत्न देने का ऐलान किया है। इसमें पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का भी नाम शामिल हैं. इनके अलावा डॉ. भूपेन हजारिका और नानाजी देशमुख को मरणोपरांत भारत रत्न दिया जा रहा है।
बता दें, भारत रत्न देश का सर्वोच्च नागरिक सम्मान है, जो असाधारण राष्ट्रीय सेवा के लिए दिया जाता है। 8 अगस्त को राष्ट्रपति भवन में आयो‍जित होने जा रहे अवॉर्ड सेरेमनी में भारत रत्न दिया जाएगा।
भूपेन हजारिका, असम के गीतकार, संगीतकार, गायक, कवि और फिल्म-निर्माता थे। उन्होंने कला के क्षेत्र में बड़ी उपलब्धियां हासिल की हैं। उन्होंने असम की संस्कृति को कला के जरिए व्यापक पैमाने तक पहुंचाया। संगीतकार, गायक, एक्टर और फिल्म निर्देशक के रूप में वे सक्रिय रहे।
भूपेन हजारिका ने समाज के तमाम गंभीर मुद्दों को फिल्मों और संगीत के जरिए पेश किया। 8 दिसंबर 1926 को असम में जन्मे भूपेन हजारिका का पांच नवंबर 2011 को निधन हो गया था। भूपेन हजारिका के गीतों ने लाखों को दीवाना बनाया। उन्होंने कई गीतों को जादुई आवाज दी। ओ गंगा तू बहती क्यों है... और दिल हूम हूम करे जैसे गीतों ने भूपेन हजारिका को प्रशंसकों को दिलों में हमेशा के लिए बसा दिया।
और ख़बरें >

समाचार