महामीडिया न्यूज सर्विस
मध्यप्रदेश में मूसलाधार बारिश ,पहली बार सरदार सरोवर बांध के गेट खुले

मध्यप्रदेश में मूसलाधार बारिश ,पहली बार सरदार सरोवर बांध के गेट खुले

admin | पोस्ट किया गया 39 दिन 11 घंटे पूर्व
09/08/2019
भोपाल [ महा मीडिया ]  पिछले कुछ दिनों से मध्य प्रदेश में आफत की बारिश बरस रही है। मूसलाधार बारिश के चलते मध्य प्रदेश के ज्यादातर जिलों में नदी-नाले उफान पर हैं। कई स्थानों पर तो मुख्य नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। इससे आम जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है। लगातार हो रही बारिश के चलते रायसेन में भी हालात खराब हो गए हैं। यहां कई इलाकों में लोगों के घरों में पानी घुस गया है।रायसेन मुख्यालय सहित जिले भर में हुई मूसलाधार बारिश से हर तरफ पानी ही पानी नजर आ रहा है। रायसेन का भोपाल से सड़क संपर्क टूट गया है। यहां रीछन नदी के उफान पर आ जाने से दरगाह रपटा चढ़ गया है। वहीं भोपाल-रायसेन बायपास की एक पुलिया धसक जाने की वजह से पूरी तरह रायसेन का भोपाल से सड़क संपर्क टूटा हुआ है। इसके अलावा पगनेश्वर गांव में बेतवा नदी के उफान आ जाने की वजह से रायसेन का विदिशा से भी सड़क संपर्क टूट गया है।बरेली के बारना नदी के पुल पर पानी होने से भोपाल-जबलपुर मार्ग बंद है। जिले के नदी-नाले उफान आ जाने से कई स्थानों की सड़क संपर्क टूटे हुए हैं। वहीं निचले इलाकों में पानी भराया हुआ है। रायसेन की तरह ही बड़वानी में भी मूसलाधार बारिश के चलते नर्मदा नदी उफान पर है। देर रात पहली बार सरदार सरोवर बांध के गेट खोले गए। इसके चलते नर्मदा का जलस्तर कम हुआ है। पहले जहां नर्मदा नदी का जलस्तर 131 मीटर तक पहुंच गया था। वहीं बांध के दस गेट खोले जाने के बाद नर्मदा का जलस्तर घटकर 130.700 मीटर हो गया है। जानकारी के मुताबिक सरदार सरोवर बांध से 6 लाख 45 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा गया है।" >

और ख़बरें >

समाचार