महामीडिया न्यूज सर्विस
रूस निर्मित डिफेंस मिसाइल अगले वर्ष तक भारतीय सेना में शामिल होंगे

रूस निर्मित डिफेंस मिसाइल अगले वर्ष तक भारतीय सेना में शामिल होंगे

admin | पोस्ट किया गया 91 दिन 13 घंटे पूर्व
09/09/2019
नई दिल्ली (महामीडिया) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के रूस दौरे के फौरन बाद बहुत अच्छी खबर आई है। रूस ने कहा है कि वो 18 महीने के अंदर भारत को एस-400 मिसाइल सिस्टम की सप्लाई कर देगा। रूस के डिप्टी प्राइम मिनिस्टर यूरी बोरिसोव ने इसकी पुष्टि की है। इस सिस्टम के बाद पाकिस्‍तान की गजनवी, शाहीन और हत्‍फ जैसी कोई भी मिसाईल भारत के आसमान को छू भी नहीं पाएगी। 
रूस के डिप्टी प्राइम मिनिस्ट यूरी बोरिसोव ने एक इंटरव्यू में बताया कि एडवांस भुगतान मिल गया है और कड़े तौर पर सहमति का पालन करते हुए सब कुछ तय समय के मुताबिक 18 से 19 महीने के अंदर सौंप दिया जाएगा। 
ये वो मिसाइल सिस्टम है जो हवा में ही दुश्मन की मिसाइल को मार गिराता है। ये मिसाइल सिस्टम जहां एक्टिवेट हो जाता है वहां मीलों दूर तक दुश्मन की परछाई भी नहीं पड़ सकती। रूस में बना ये एयर डिफेंस सिस्टम जल्द ही भारतीय सेना का हिस्सा बनने वाला है। पारंपरिक एयर डिफेंस एक ही टारगेट को निशाना बना पाती है जबकि एस-400 एक बार में 100 टारगेट पहचान सकता है। 36 टारगेट पर एक साथ निशाना लगा सकता है। 600 किलोमीटर की रेंज दुश्मन की मिसाइल को पहचान सकता है।
और ख़बरें >

समाचार