महामीडिया न्यूज सर्विस
झाबुआ उपचुनाव को लेकर सरगर्मियां तेज

झाबुआ उपचुनाव को लेकर सरगर्मियां तेज

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 23 दिन 4 घंटे पूर्व
21/09/2019
भोपाल (महामीडिया) मध्य प्रदेश में झाबुआ उपचुनाव को लेकर सरगर्मियां बढ़ गई हैं| भारत निर्वाचन आयोग ने मप्र की झाबुआ विधानसभा उप चुनाव की तारीख का एलान कर दिया है। उपचुनाव के लिए 21 अक्टूबर को मतदान होगा और 24 अक्टूबर को मतगणना संपन्न होगी। इसी दिन तय हो जाएगा कि झाबुआ का विधायक कौन होगा|
उपचुनाव की घोषणा के साथ ही क्षेत्र में आचार संहिता लागू हो गई है| यह चुनाव आचार संहिता संपूर्ण झाबुआ व अलीराजपुर जिले में लागू रहेगी। निर्वाचन आयोग द्वारा जारी कार्यक्रम के अनुसार 23 सितंबर से झाबुआ विधानसभा उपचुनाव के लिए नामांकन भरने का कार्य शुरू हो जाएगा और 30 सितंबर तक नामांकन पत्र दाखिल किए जाएंगे।  
गौरतलब है कि भाजपा विधायक रहे गुमानसिंह डामोर द्वारा लोकसभा चुनाव में जीतकर सांसद बनने के बाद इस्तीफा देने के चलते यह उपचुनाव हो रहा है। उपचुनाव की घोषणा के साथ ही चुनावी सरगर्मियां बढ़ गई है| 
कांग्रेस में पूर्व विधायक जेवियर मेड़ा और कांतिलाल भूरिया जोर लगा रहे हैं| दोनों ही नेता सीएम तक अपनी बात पहुंचा चुके हैं| भूरिया चाहते हैं कि उन्हें या उनके बेटे को व्रिकांत भूरिया को टिकट मिले। हालाँकि दोनों ही हाल ही में हार का स्वाद चख चुके हैं|  वहीं, जेवियर मेड़ा इसका विरोध कर रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक अगर कांग्रेस मेड़ा को टिकट देती है तो कांतिलाल भूरिया को संतुष्ट करने के लिए राज्यसभा भेजने का ऑफर दिया जा सकता है| वहीं झाबुआ में भाजपा को बड़ी सफलता दिलाने वाले जीएस डामोर की टिकट वितरण में अहम् भूमिका होगी| उन्होंने पहले विक्रांत भूरिया को विधानसभा चुनाव में हराया फिर उन्होंने लोकसभा चुनाव में कांतिलाल भूरिया को चुनाव हराया। बताया जा रहा है कि डामोर के पसंद के नेता को ही उतारा जाएगा| 
और ख़बरें >

समाचार