महामीडिया न्यूज सर्विस
भारतीय सेना ने LOC पर सैनिकों की संख्या बढ़ाना शुरू की

भारतीय सेना ने LOC पर सैनिकों की संख्या बढ़ाना शुरू की

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 39 दिन 15 घंटे पूर्व
14/10/2019
श्रीनगर (महामीडिया) कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए बाद पाकिस्तान लगातार सीमापार से आतंकियों की घुसपैठ कराने की कोशिश कर रहा है। आतंकवादियों की घुसपैठ से निपटने के लिए भारतीय सेना ने नियंत्रण रेखा पर अतिरिक्त सैनिकों की तैनाती शुरू कर दी है। उत्तरी कमान के बाहर से अतिरिक्त सैनिकों को लाया गया है। सैनिकों को उन पॉकेटों से भी लाया गया है जहां आतंक को निष्क्रिय कर दिया गया है और उन्हें आगे के स्थानों पर भेज दिया गया है। दो अधिकारियों ने कहा कि एलओसी पर कुछ हजार की संख्या में सेना की तैनाती की गई है।  
गौरतलब है कि इस साल पाकिस्तान द्वारा सीमा उल्लंघन की संख्या में नाटकीय रूप से वृद्धि हुई है। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, इस साल 10 अक्टूबर तक 2,317 उल्लंघन हुए हैं, जबकि पिछले साल यह संख्या 1,629 और 2017 में 860 थी। पाकिस्तानी सेना एलओसी पर संघर्ष विराम उल्लंघन की करती रही है, ताकि जम्मू-कश्मीर में घुसपैठियों की मदद की जा सके और आतंकी हमले किए जा सकें। यही वजह है कि इस तरह के घुसपैठियों ने हाल ही में उरी, पठानकोट और नगरोटा में आत्मघाती हमलों को अंजाम दिया है।
सेना की उत्तरी कमान के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने जम्मू में संवाददाताओं से कहा था, "जहां तक जम्मू कश्मीर में सक्रिय आतंकवादियों की बात है तो बाहर से आये 200-300 आतंकवादी अपने काम में लगे हुए हैं।" 
सेना के शीर्ष कमांडर मौजूदा समय में उभर रही सुरक्षा एवं प्रशासनिक चुनौतियों और बल के भविष्य की रणनीति पर आज से मंथन शुरू करेंगे। सेना के कमांडरों का सम्मेलन 14 से 19 अक्टूबर के बीच नयी दिल्ली में आयोजित किया जाएगा। साल में दो बार अप्रैल और अक्टूबर में शीर्ष स्तर पर चर्चा के लिए सेना के कमांडरों की बैठक होती है। सम्मेलन की शुरुआत 14 अक्टूबर को सेना प्रमुख बिपिन रावत के संबोधन के साथ होगी। 
और ख़बरें >

समाचार