महामीडिया न्यूज सर्विस
भारतीय मूल के अभिजीत बेनर्जी समेत दो लोगों को मिला अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार

भारतीय मूल के अभिजीत बेनर्जी समेत दो लोगों को मिला अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार

admin | पोस्ट किया गया 33 दिन 16 घंटे पूर्व
14/10/2019
स्टॉकहोम [  महामीडिया  ]अल्फ्रेंड नोबेल के सम्मान में दिए जाने वाले दुनिया के प्रतिष्ठित नोबले पुरस्कारों की श्रेणी में इकोनॉमिक साइंस में नोबेल प्राइज की घोषणा हो चुकी है। इस बार इकोनॉमिक साइंस में स्वेरजस रिस्कबैंक प्राइज अभिजीत बेनर्जी के अलावा ईस्थर डफलो और माइकल क्रीमर को दिया गया है। इन तीनों को यह पुरस्कार वैश्विक गरीबी को कम करने के प्रयासों के लिए दिया गया है। इस पुरस्कार की घोषणा एकेडमी के सेक्रेटरी जनरल गोरान के हैनसन ने की सोमवार को की। अकादमी द्वारा जारी बयान के अनुसार, इस साल के पुरस्कार विजेताओं ने वैश्विक गरीबी से लड़ने के लिए कुठ ठोस जवाब तलाशने की दिशा में काम किया है।बयान के अनुसार जिन लोगों को यह पुरस्कार दिया गया है उन्होंने वैश्विक गरीबी के मुद्दे को उन छोटे मुद्दों और सवालों में बदलने का तरीका निकाला जिन्हें आसानी से एड्रेस किया जा सके। बता दें कि पुरस्कार पाने वाले अभिजीत बेनर्जी भारतीय मूल के इकोनॉमिस्ट हैं जिनका जन्म कोलकाता में हुआ था। अभिजीत फिलहाल फोर्ड फाउंडेशन के प्रोफेसर हैं।बता दें कि इकोनॉमिक साइंसेंज के लिए अल्फ्रेड नोबेल की याद में दिए जाने वाले इन नोबेल पुरस्कार को बैंक ऑफ स्वीडन प्राइज के नाम से दिया जाता है। इसे वास्तव में स्वेरिजेस रिक्सबैंक प्राइज इन इकोनॉमिक साइंसेस कहा जाता है। इसकी स्थापना स्वीडन की सेंट्रल बैंक द्वारा 1968 में की गई थी। आज दिया गया यह पुरस्कार इस श्रेणी का 51वां नोबेल पुरस्कार है। अब श्रेणी के अब तक के सभी पुरस्कार पुरुषों को ही दिए गए हैं और साल के पुरस्कार की रकम 9,15,300 डॉलर है।


और ख़बरें >

समाचार