महामीडिया न्यूज सर्विस
छत्तीसगढ़ सरकार की दो टूक, नहीं घटाएंगे पेट्रोल-डीजल पर वैट

छत्तीसगढ़ सरकार की दो टूक, नहीं घटाएंगे पेट्रोल-डीजल पर वैट

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 684 दिन 5 घंटे पूर्व
10/10/2017
रायपुर (महामीडिया) छत्तीसगढ़ में लोगों को पेट्रोल- डीजल की कीमतों में राज्य सरकार की तरफ से फिलहाल कोई राहत नहीं मिलेगी। राज्य के वाणिज्यकर मंत्री अमर अग्रवाल ने साफ कर दिया कि दूसरे राज्यों की तुलना में यहां पहले ही वैट कम है, इसे और कम नहीं किया जा सकता। राज्य में पट्रोल- डीजल पर अभी 29 फीसदी वैट वसूला जा रहा है। राज्य में पेट्रोल- डीजल की मौजूदा कीमत में 28.93 फीसदी वैट जुड़ा हुआ है। केंद्र सरकार और भाजपा राष्ट्रीय संगठन के अपील के बाद यहां इसमें पांच फीसदी कमी की उम्मीद की जा रही थी। इससे दोनों पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में करीब 3 से 5 स्र्पए प्रति लीटर कमी आने की उम्मीद की जा रही थी। राज्य की वित्तीय स्थिति बेहतर है, लेकिन विभिन्न् योजनाओं की वजह से वित्तीय भार बढ़ रहा है। इसी महीने सरकार ने धान बोनस बांटने के लिए 2100 करोड़ स्र्पए का कर्ज लिया है। अगले महीने से स्मार्ट फोन बांटने की तैयारी है, इस 1200 करोड़ के खर्च का अनुमान है।
भाजपा शासित 13 राज्यों में केवल चार राज्य अस्र्णाचल, गोवा, हरियाणा व मणिपुर ही ऐसे हैं, जहां छत्तीसगढ़ से कम वैट वसूला जा रहा है। वहीं, भाजपा जहां सहयोगी दलों के साथ सत्ता में है, उनमें बिहार में 26 व नागालैंड में पेट्रोल- डीजल पर करीब 25 फीसदी वैट है। भाजपा शासित महाराष्ट्र में देश का सर्वाकि करीब 48 फीसदी वैट लिया जाता है। एमपी में 39, राजस्थान व उत्तराखंड में लगभग 33 तथा भाजपा सहयोगी दलों के शासन वाले आंध्र प्रदेश में भी वैट की दर 39 फीसदी है। राज्य सरकार की आय में सबसे बड़ी भूमिका वैट/बिक्री कर की है। वित्तीय वर्ष 2017-18 में 13445 करोड़ स्र्पए की आमदनी का अनुमान है।
और ख़बरें >

समाचार