महामीडिया न्यूज सर्विस
महर्षि सांस्कृतिक महोत्सव में असम का दबदबा

महर्षि सांस्कृतिक महोत्सव में असम का दबदबा

admin | पोस्ट किया गया 755 दिन 49 मिनट पूर्व
28/10/2017
भोपाल। महर्षि महेश योगी संस्थान द्वारा आयोजित 10 वें राष्ट्रीय सांस्कृतिक महोत्सव महोत्सव में देश के पूर्वोत्तर राज्य असम के छात्र-छात्राओं ने शानदार सांस्कृतिक छठा बिखेरते हुए ओवर ऑल चैंपियनशिप जीती। दूसरे सस्थान पर मप्र का जबलपुर रहा। सभी विजेताओं और उप-विजेताओं को महर्षि  विद्या मंदिर विद्याालय समूह के अध्यक्ष ब्रम्ह्राचारी गिरीश जी ने पुरस्कार प्रदान किए। राजधानी में आयोजित राष्ट्रीय सांस्कृतिक महोत्सव में 16 राज्यों के लगभग 168  महर्षि  विद्या मंदिर स्कूलों के  साढ़े पांच सौ से ज्यादा छात्राओं ने अपने देश की सांस्कृतिक झलकों के साथ-साथ अपने राज्यों की संस्कृति को मंच पर बड़ी खूबसूरती के साथ प्रदर्शित किया गया।  पुरस्कार वितरण समारोह के बाद ब्रम्ह्राचारी गिरीश जी ने छात्र-छात्राओं को संबोधित किया। श्री ब्रम्ह्राचारी ने कहा कि जब हम चलते हैं तो दोनों पैर एक आगे रहता है एक पीछे रहता है। हम तभी आगे चल पाते हैं, जब पीछे वाला पैर दूसरे को सपोर्ट करता है, तब हम आगे चल पाते हैं, आगे बढ़ पाते हैं। इसी तरह जीवन में निरंतर तमाम उतार चढ़ाओं के बावजूद आकाश की उंचाईयों को छूने का प्रयास निरंतर करना चाहिए। श्री ब्रम्ह्राचारी जी  का कहना था कि हम जीवन में कई बार निरंतर अवार्ड हासिल करते हैं लेकिन कई बार प्राप्त नहीं कर पाते, इसके बावजूद हमें निरंतर अवार्ड के लिए या जीतने के लिए प्रयास करते रहना चाहिए। हमं निरंतर दैनिक जीवन में योग एवं ध्यान को अपनाकर अपनी दिनचर्या प्रारंभ करें एवं निरंतर आनन्द के लिए अपने कर्तव्यों का निर्वहन करें।   इस अवसर पर महर्षि विद्या मंदिर गुवहाटी को 3.51 लाख, एम.व्ही. एम फतेहपुर को 5.51 लाख एवं महर्षि विद्या मंदिर हैदराबाद को 7.51 लाख एवं महर्षि विद्या मंदिर गुवहाटी एवं नैनी इलाहाबाद को 2.51 लाख नगद राशि से पुरस्कृत किया गया। वहीं सेकंड्री स्कूल लेबल पर महर्षि विद्या मंदिर चैन्नाई को 5.51 लाख, महर्षि विद्या मंदिर विकास नगर गुवहाटी को 3.51 लाख, महर्षि विद्या मंदिर गुवहाटी 1.51 लाख, एवं महर्षि विद्या मंदिर नोएडा को 1.11 लाख से सम्मनित किया गया। इस अवसर पर महर्षि  वेद विज्ञान विवि के कुलपति भुवनेश शर्मा निदेशक प्रकाश चंद्र जोशी, संचालक बीएस सोलंकी, वेद प्रकाश तिवारी, एवं निदेशक संचार एवं जनसंपर्क व्ही आर खरे एवं अन्य गणमान्य लोग मौजूद थे। 
और ख़बरें >

समाचार