महामीडिया न्यूज सर्विस
cbi की कोशिश होती है कि निर्दोष परेशान न हों

cbi की कोशिश होती है कि निर्दोष परेशान न हों

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 741 दिन 4 घंटे पूर्व
03/11/2017
भोपाल (महामीडिया) सीबीआई गंभीर मामलों का अन्वेषण करने के साथ-साथ देश से भ्रष्टाचार का सफाया करने में संलग्न जांच और उच्चतम मानक और सत्यनिष्ठा स्थापित करने की आवश्यकता पर जोर देता है। अन्वेषण में हमारी दक्षता किसी भी परिस्थिति में कमतर न हो और अन्वेषण की तैयारी ऐसी हो कि हम निर्दोष व्यक्तियों को परेशान किए बिना अपराधियों को सलाखों के पीछे भेजकर मामले का शीघ्र निराकरण करने में सक्षम हों। यह बात केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो के पुलिस अधीक्षक जे एन राणा ने कही। मौका था सतर्कता जागरूकता सप्ताह-2017 के अतंर्गत गुरुवार को हुए विशेष व्याख्यान का। उन्होंने भ्रष्टाचार के रोकथाम के लिए सीबीआई की कार्यशैली, दंड़ विधान के बारे में बताया।  सीबीआई में 2 प्रभाग होते है भ्रष्टाचार-रोधी प्रभाग और विशेष अपराध प्रभाग। भ्रष्टाचार-रोधी प्रभाग ऐसे सभी मामलों की जांच करता है, जिन्हें भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम 1988 के अतंगर्त पंजीकृत किया जाता है। दूसरी तरफ, विशेष अपराध प्रभाग भ्रष्टाचार आर्थिक अपराध के सभी मामलों आैर आर्थिकेतर अपराधाें के सभी मामलों की जांच करता है। 
और ख़बरें >

समाचार