महामीडिया न्यूज सर्विस
>>
समाचार

  • आज गांधी जयंती है

    पटना [महामीडिया]: आज दो अक्तूबर, 2017 है.  राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का 148वां जन्मदिन.  यह जानना रोचक है कि सौ साल पहले जब गांधी अपना 48वां जन्मदिन मना रहे थे, तो वह कहां थे और क्या कर रहे थे. ब्रिटिश सरकार के दस्तावेज बताते हैं कि वे इस मौके पर रांची में थे, जहां चंपारण के किसानों की किस्मत का फैसला हो रहा था. तय हो रहा था कि तिनकठिया प्रथा को रहने &# >>और पढ़ें

  • नवरात्रि के ९ दिन , परम आनंद की अनुभूति

    शारदीय नवरात्रि के ९ दिन देवी भगवती की पूजन आराधना और साधना के पवित्र पवन दिन हैं। इस नवरात्रि में महर्षि जी के वैदिक पंडितों ने जो सहस्र चंडी महायज्ञ किया उससे परम आनंद की अनुभूति हुई, चेतना की-आत्मा की पूर्ण जाग्रति हुई, चेतना में स्थित समस्त देवताओं का जागरण हुआ, देवताओं की अनंत शक्ति एवं सामर्थ्य से साक्षात्कार हुआ तथा महर्षि जी के समस्त & >>और पढ़ें

  • शरद पूर्णिमा, समुद्र मंथन से इसी दिन हुआ था लक्ष्मी का उदय

    दशहरे के पांचवे दिन शरद पूर्णिमा का उत्सव मनाया जाता है। असल में यह सिर्फ धार्मिक त्योहार ही नहीं है, यह ऋतु परिवर्तन का उत्सव भी है, आध्यात्मिक, औषधिय और रचनात्मक उत्सव भी होता है। वर्षा से शीत की तरफ बढ़ते दिनों का संक्रमण काल हुआ करता है शरद। उसी का उत्सव है शरद पूर्णिमा। अलग-अलग जगह पर अलग-अलग तरह से शरद-पूर्णिमा मनाई जाती है। लेकिन इस सबके पी >>और पढ़ें

  • आज दशहरा पर्व है

    भोपाल [महामीडिया]: दशहरे का आध्यात्मिक परिप्रेक्ष्य में भावार्थ है- व्यक्ति की दस प्रकार की दुष्प्रवृत्तियों- काम, क्रोध, लोभ, मोह, मद, मत्सर, अहंकार, आलस्य, हिंसा और चोरी को हरने वाला उत्सव। दरअसल, शारदीय नवरात्रों के समापन पर विजयादशमी का पर्व मनुष्य को उसकी इन दस बुराइयों पर विजय प्राप्त करने की प्रेरणा देता है। नौ दिन तक व्रत-उपवा >>और पढ़ें

  • एकसाथ सैकड़ों वैदिक पण्डितों ने की पुर्णाहुति के साथ विश्वशांति की कामना

    भोपाल। (महा मीडिया)  नवरात्र के पावन अवसर पर आनन्द की प्राप्ति एवं विश्वशांति के उद्देश्य से भोजपुर रोड़ ग्राम दीपड़ी में महर्षि महेश योगी संस्थान में विगत नौ दिनों से चल रहे श्रीचण्डीपाठ एवं हवन कार्यक्रम का आज पुर्णाहुति के साथ समापन हो गया। श्रीचण्डीपाठ एवं हवन का समापन महर्षि संस्थान के सैकड़ों वैदिक पण्डितों एवं महर्षि संस्थान के प्र >>और पढ़ें

  • आज दुर्गा नवमी है

    नई दिल्ली [महामीडिया]: आश्विन शुक्ल दशमी को पडऩे वाला सनातन धर्म के चार प्रमुख त्योहारों में एक विजय दशमी इस बार यह 30 सितंबर को मनाई जाएगी। दशमी तिथि 29 सितंबर की रात्रि 9.22 बजे से लग रही है, जो 30 सितंबर की रात्रि 11.01 बजे तक रहेगी। ज्योतिषाचार्य पं. ऋषि द्विवेदी के अनुसार महानवमी व्रत 29 सितंबर को होगा। व्रत का पारण दशमी पर शुक्रवार की रात 9.22 बजे क&# >>और पढ़ें

  • नवरात्र का आठवां दिन: महागौरी की पूजा विधि और कन्या पूजन का लाभ

    नवरात्र के आठवें दिन माता आदि शक्ति के महागौरी स्वरूप की पूजा की जाती है। शिवपुराण के अनुसार, महागौरी को 8 साल की उम्र में ही अपने पूर्व जन्म की घटनाओं का आभास हो गया था। इसलिए उन्होंने 8 साल की उम्र से ही भगवान शिव को पति रूप में पाने के लिए तपस्या शुरू कर दी थी। इसलिए अष्टमी के दिन महागौरी का पूजन करने का विधान है। इस दिन मां की पूजा में दुर्गासप्त >>और पढ़ें

  • दशहरा की तैयारिया जोरो पर

    भोपाल [महामीडिया]: हमारे देश में जितने भी त्योहार मनाए जाते हैं उनके पीछे कुछ न कुछ रहस्य या कहानी छिपी होती है. ऐसा ही एक त्योहार दशहरा भी है. जिसे पूरे देश में बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है. इस दिन को असत्य पर सत्य की विजय के तौर पर मनाया जाता है. इस दिन भगवान राम ने बुराई के प्रतीक माने जाने वाले रावण का वद्ध किया था. दशहरे को रावण  >>और पढ़ें

  • आज है सातवां नवरात्र मां कालरात्रि का दिन

    मां दुर्गाजी की सातवीं शक्ति कालरात्रि के नाम से जानी जाती हैं। दुर्गापूजा के सातवें दिन मां कालरात्रि की उपासना का विधान है। इस दिन साधक का मन "सहस्रार" चक्र में स्थित रहता है। इसके लिए ब्रह्मांड की समस्त सिद्धियों का द्वार खुलने लगता है।दुर्गा जी का सातवां स्वरूप कालरात्रि है। इस दिन साधक का मन ?सहस्रार? चक्र में स्थित रहता है। इनका रंग काल >>और पढ़ें

  • नवरात्रि: छठे दिन करें मां कात्यायनी की पूजा, शत्रुओं का होगा विनाश

    नई दिल्ली [महामीडिया]: नवरात्रि के छठे दिन मां कात्यायनी की पूजा होती है। सच्चे मन से मां की अराधना करने पर शत्रुओं का नाश होता है और मन से हर प्रकार का डर दूर हो जाता है। इनकी उपासना और आराधना से भक्तों को बड़ी आसानी से अर्थ, धर्म, काम और मोक्ष चारों फलों की प्राप्ति होती है। उसके रोग, शोक, संताप और भय नष्ट हो जाते हैं। सभी जन्मों के समस्त पाप भी नष्ट ह&# >>और पढ़ें

  • श्रीराम की लीला से भक्तिरस में डुबकी लगा रहा भोजपुर क्षेत्र

    भोपाल। परम पूज्य महर्षि महेश योगी जी की अनुपम कृपा से नवरात्र के पावन अवसर पर महर्षि संस्थान द्वारा भोजपुर रोड़ ग्राम दीपड़ी में विख्यात श्री शारदा आदर्श रामलीला मण्डल मैहर के कलाकारों द्वारा रामलीला के चौथे दिन रविवार की रात जानकी विवाह के लिए रचित स्वयंवर समारोह में श्रीराम ने लंकापति रावण एवं कई महान योद्धाओं की उपस्थिति में धनुष तोड़ा&# >>और पढ़ें

  • नवरात्र के पांचवें दिन करें स्कंदमाता की पूजा

    भोपाल [महामीडिया]: सोमवार को नवरात्री का पांचवा दिन हैं और इस दिन स्कंदमाता की पूजा की जाती है। मां दुर्गा का पांचवां रुप स्कंदमाता का है। वे देवासुर संग्राम में देवताओं के सेनापति बने स्कन्द कुमार की माता हैं, इसीलिए स्कंदमाता के नाम से जानी जाती है। स्कन्द कुमार को कार्तिकेय, सुब्रमण्यम और मुरुगन के नाम से भी जाता है। यह बुद्ध ग >>और पढ़ें

  • मुनि विश्वामित्र के साथ वन गए राम-लक्ष्मण, किया राक्षसों का वध

    भोपाल। परम पूज्य महर्षि महेश योगी जी की अनुपम कृपा से नवरात्र के पावन अवसर पर महर्षि संस्थान द्वारा भोजपुर रोड़ ग्राम दीपड़ी में विख्यात श्री शारदा आदर्श रामलीला मण्डल मैहर के मंचन में रामलीला का मनमोहक आयोजन जारी है। रामलीला के दूसरे एवं तीसरे दिन विश्वामित्र का आगमन एवं उनके साथ राम लक्ष्मण का वन गमन का दृष्टांत बड़े ही मार्मिक रूप से प्रस >>और पढ़ें

  • पांच वर्ष की कन्या पूजा से व्यक्ति रोग मुक्त होता है

    नई दिल्ली [महामीडिया]:  नवरात्र में मां दुर्गा की पूजा के साथ ही अष्टमी या नवमी को कन्याओं को भोजन कराया जाता है। नवरात्रि में कन्या पूजन का विशेष महत्व माना गया क्योंकि इन्हें मां दुर्गा का साक्षात रूप माना जाता है। आमतौर पर दो से नौ साल तक की कन्याओं को ही भोजन कराने का विधान है। हर उम्र की कन्या का विशेष कार्यों की सिद्धि के लिए पूजन किया जातì >>और पढ़ें

  • दुर्गा की तीसरी शक्ति है देवी चन्द्रघण्टा

    नई दिल्ली [महामीडिया]: नवरात्रि के तीसरे दिन मां दुर्गा के तीसरे रूप मां चंद्रघंटा का पूजा की जाती है।  मां चंद्रघंटा का रूप बहुत ही सौम्य है। मां को सुगंध प्रिय है। उनका वाहन सिंह है। उनके दस हाथ हैं। हर हाथ में अलग-अलग शस्त्र हैं। वे आसुरी शक्तियों से रक्षा करती हैं। मां चंद्रघंटा की आराधना करने वालों का अहंकार नष्ट होता है और उनको >>और पढ़ें


नये चित्र

महर्षि विद्या मंदिर
महर्षि विद्या मंदिर
महर्षि विद्या मंदिर
महर्षि विद्या मंदिर
योग
योग
विराट जीत
विराट जीत
कुछ और चित्र
MAHA MEDIA NEWS SERVICES

Sarnath Complex 3rd Floor,
Front of Board Office, Shivaji Nagar, Bhopal
Madhya Pradesh, India

+91 755 4097200-16
Fax : +91 755 4000634

mmns.india@gmail.com
mmns.india@yahoo.in