महामीडिया न्यूज सर्विस
>>
समाचार

  • कार्तिक माह में अक्षय पुण्य फल की प्राप्ति होती है

    भोपाल (महामीडिया) भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी के प्रिय कार्तिक माह में अनेक धार्मिक कार्य किए जाते हैं, जिनमें सबसे प्रमुख है कार्तिक स्नान। कार्तिक माह में स्नान, दान, दीपदान और प्रतिदिन कार्तिक महात्म्य की कथा सुनने का बड़ा महत्व बताया गया है। शास्त्रों में कार्तिक स्नान का वर्णन करते हुए लिखा है कि इस पूरे माह सूर्योदय से पूर्व ब्र >>और पढ़ें

  • आज शरद पूर्णिमा है

    भोपाल (महामीडिया) आज शरद पूर्णिमा है। आश्विन माह की पूर्णिमा को शरद पूर्णिमा या कोजागरी पूर्णिमा कहते हैं। आज के दिन से शरद ऋतु प्रारंभ होती है। इसलिए इसे शरद पूर्णिमा कहा जाता है। सभी पूर्णिमा में शरद पूर्णिमा का महत्व इसलिए अधिक होता है क्योंकि इस दिन चंद्रमा अपनी संपूर्ण कलाओं से युक्त होता है। यही कारण है कि शरद पूर्णिमा की रात्रि  >>और पढ़ें

  • श्रीकृष्ण ने शरद पूर्णिमा को रचाया था महारास

    भोपाल (महामीडिया) शरद पूर्णिमा कल है। पूर्णिमा तिथि को चंद्रमा अपने पूर्ण स्वरूप में होता है। अश्विन मास के शुक्‍ल पक्ष की पूर्णिमा का विशेष शास्त्रोक्त महत्व है। इस पूर्णिमा को शरद पूर्णिमा कहा जाता है। शरद पूर्णिमा को कोजागर पूर्णिमा भी कहा जाता है। इस दिन चंद्रमा अपनी सभी सोलह कलाओं के साथ धरती पर अमृत बरसाता है। इसलिए लोग इस दिन र >>और पढ़ें

  • पति की आयु, स्वास्थ्य व सौभाग्य की कामना के लिए किया जाता है "करवा चौथ" का व्रत

    भोपाल (महामीडिया) करवा चौथ कार्तिक मास की चतुर्थी तिथि को मनाया जाता है। इस बार करवा चौथ का व्रत 17 अक्टूबर को रखा जाएगा। करवा चौथ और संकष्टी चतुर्थी एक दिन पड़ते हैं। संकष्टी चतुर्थी पर भगवान गणेश की पूजा की जाती है। वहीं करवा चौथ के दिन विवाहित महिलाएं पति की लंबी आयु की कामना के लिए निर्जला व्रत रखकर भगवान शिव, पार्वती और कार्तिकेय की पूज >>और पढ़ें

  • धरती पर अमृत वर्षा का दिन "शरद पूर्णिमा"

    भोपाल (महामीडिया) आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा को "शरद पूर्णिमा" कहते हैं। शास्त्रों में इस पूर्णिमा को विशेष महत्व प्रदान किया गया है। कहते हैं कि शरद पूर्णिमा का व्रत रखने से हर प्रकार की मनोकामना की पूर्ति हो जाती है। इस बार 13 अक्टूबर को शरद पूर्णिमा है। इस व्रत को कौमुदी व्रत के रूप में भी मनाया जाता है। इस दिन चन्द्रमा से अमृत क&# >>और पढ़ें

  • महर्षि संस्थान में विजय दशमी धूमधाम से मनाई गई

    भोपाल (महामीडिया) ब्रह्मनंद सरस्वती आश्रम छान में विजय दशमी का त्यौहार धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर महर्षि विद्या मंदिर विद्यालय समूह के अध्यक्ष ब्रह्मचारी गिरीश ने अपने संदेश में कहा कि बुराई पर अच्छाई की जीत के पर्व पर सभी देशवासियों को शुभकामनाएं। इस अवसर पर रावण दहन का कार्यक्रम हुआ जिसमें बड़ी संख्या में महर्षि के अधिकारी, कर् >>और पढ़ें

  • नवरात्र के 6वें दिन होती है मां कत्यायनी की पूजा

    भोपाल (महामीडिया) नवरात्र का आज 6वां दिन है। आज के दिन मां दुर्गा के कात्यायनी स्वरूप की पूजा की जायेगी। माता कात्यायनी मन की शक्ति की देवी है और माता कात्यायनी की उपासना से सभी इन्द्रियों को वश में किया जा सकता है। ऋषि कात्यायन के यहां जन्म लेने के कारण इन्हें कात्यायनी के नाम से जाना जाता है। मां के इस रूप के प्रगट होने की बड़ी ही अद्भुत क >>और पढ़ें

  • मैहर स्थित मां शारदा देवी के दर्शन के लिये उमड़ी भक्तों की भीड़

    सतना (महामीडिया) नवरात्र पर मैहर स्थित मां शारदा देवी के दर्शन करने के लिए भक्तों की भीड़ लगातार बढ़ती ही जा रही है। पांचवें दिन गुरुवार को देश के कोने-कोने से आए लगभग तीन लाख श्रद्धालुओं ने मां शारदा का दर्शन-पूजन कर आशीर्वाद लिया।
    पहाड़ी पर स्थित मां शारदा मंदिर की ख्‍याति विदेशों में भी हैं। नवरात्रि के दौरान यहां देश-विदेश से बड़ी >>और पढ़ें

  • एक ऐसा शक्तिपीठ जिसकी मुसलमान भी करते हैं पूजा


    भोपाल (महामीडिया) नवरात्रि के पावन पर्व पर अगर माता का वह मंदिर शक्तिपीठ है तो इसकी शान ही अलग हो जाती है। ऐसा ही एक शक्तिपीठ पाकिस्तान के बलूचिस्तान राज्य में स्थित है। इस शक्तिपीठ तक पहुंचने के लिए पाकिस्तान सरकार से इजाजत लेनी पड़ती है। शक्तिपीठ के पास में ही हिंगला नदी प्रवाहित होती है। माता का यह मंदिर हिंगलाज देवी शक्तिपीठ &# >>और पढ़ें

  • चार दिन में ही 1.60 लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने माता वैष्णो देवी के किये दर्शन

    कटड़ा (महामीडिया) शारदीय नवरात्र के पहले चार दिन में ही 1.60 लाख से अधिक भक्त माता वैष्णो देवी के दर्शन कर चुके हैं। ऐसा पहली बार हुआ है कि जब नवरात्र के पहले चार दिन में ही दर्शनार्थियों का आंकड़ा इतना पहुंचा हो। इससे पहले वर्ष 2012 में पहले चार दिन में डेढ़ लाख के करीब भक्तों ने दर्शन किए थे। वहीं, पंजीकरण कक्ष से मिली जानकारी अनुसार बुधवार को रा&# >>और पढ़ें

  • अश्विन मास के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को मनाया जाता है दशहरा

    भोपाल (महामीडिया) भारतीय संस्कृति में दशहरा का बहुत अधिक महत्व है। नवरात्रि के नौ दिनों के बाद अश्विन मास के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को इसका आयोजन किया जाता हैं। धार्मिक ग्रंथो के अनुसार भगवान राम ने इसी दिन रावण का वध किया था तथा देवी दुर्गा ने नौ रात्रि एवं दस दिन के युद्ध के उपरान्त इसी दिन महिषासुर नामक राक्षस पर विजय प्राप्त की थी। दश >>और पढ़ें

  • पंचमी तिथि को देवी दुर्गा के स्कंदमाता स्वरूप की उपासना की जाती है

    भोपाल (महामीडिया) आज नवरात्रि का पांचवा दिन है| आज के दिन देवी दुर्गा के स्कंदमाता स्वरूप की उपासना की जायेगी । इनकी उपासना से घर-परिवार में सुख-शांति और समृद्धि बनी रहती है। देवताओं के सेनापति कहे जाने वाले स्कन्द कुमार, यानि कार्तिकेय की माता होने के कारण इन्हें स्कंदमाता कहा जाता है। स्कंदमाता अपने भक्तों पर उसी प्रकार अपनी कृपा बना >>और पढ़ें

  • ऊधमपुर का पिंगला माता मंदिर जहां शहीदों के नाम से अखंड ज्योति जलती है

    जम्मू (महामीडिया) ऊधमपुर स्थित पिंगला माता मंदिर में हर शारदीय नवरात्र पर शहीद जवानों के नाम से अखंड ज्योति प्रज्ज्वलित की जाती है। नवरात्र पर पिंगला माता यात्रा की भी धूम रहती है। शहीदों के परिजन भी पहुंचते हैं, जिनका सम्मान किया जाता है। 1987 से हर वर्ष माता के दरबार में शहीदों के नाम से यह ज्योति प्रज्ज्वलित की जाती है। यहां मां के जयकार >>और पढ़ें

  • नवरात्रि के चौथे दिन मां कूष्मांडा की पूजा-आराधना होती है

    भोपाल (महामीडिया) शारीदय नवरात्रि के चौथे दिन देवी कूष्माण्डा की आराधना होती है। माना जाता है कि देवी कूष्माण्डा सूर्य को दिशा और ऊर्जा प्रदान करती हैं तथा उसके अंदर ही विराजमान हैं। इनकी उपासना से सिद्धियों में निधियों को प्राप्त कर समस्त रोग-शोक दूर होकर आयु-यश में वृद्धि होती है। कूष्मांडा का अर्थ है कुम्हड़े। मां को बलियों में कुë >>और पढ़ें

  • हिमाचल प्रदेश के शक्तिपीठों में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

    शिमला (महामीडिया) हिमाचल प्रदेश के सभी शक्तिपीठों में शरद नवरात्र के अवसर पर भक्तों का भीड़ उमड़ रही है। मंदिरों के कपाट खुलने के साथ ही भक्त मां के दर्शनों के लिए पहुंच रहे हैं। मां चिंतपूर्णी, ज्वालाजी, मां चामुंडा, मां बज्रेश्वरी व मां नैना देवी के मंदिरों में श्रद्धालुओं का तांता लगा हुआ है। सभी मंदिरों को देश-विदेश से लाए गए अलग-अलग कि >>और पढ़ें


नये चित्र

महर्षि विद्या मंदिर
महर्षि विद्या मंदिर
महर्षि विद्या मंदिर
महर्षि विद्या मंदिर
योग
योग
विराट जीत
विराट जीत
कुछ और चित्र
MAHA MEDIA NEWS SERVICES

Sarnath Complex 3rd Floor,
Front of Board Office, Shivaji Nagar, Bhopal
Madhya Pradesh, India

+91 755 4097200-16
Fax : +91 755 4000634

mmns.india@gmail.com
mmns.india@yahoo.in