भारतीय मूल के वैज्ञानिक ने शारीरिक दूरी सुनिश्चित करने का यंत्र बनाया http://www.mahamediaonline.com

भारतीय मूल के वैज्ञानिक ने शारीरिक दूरी सुनिश्चित करने का यंत्र बनाया

नई दिल्‍ली [ महामीडिया ]रोना से लड़ने के लिए शारीरिक दूरी का पालन बेहद जरूरी है, लेकिन घर से बाहर निकलना भी मजबूरी है। ऐसे में शारीरिक दूरी का पालन करके हम इस वैश्विक महामारी से बच सकते हैं। हालांकि कभी-कभी हम ना चाहते हुए भी शारीरिक दूरी का पालन करना भूल जाते हैं। यह कई बार कोरोना संक्रमण का कारक बन जाता है। इसी परेशानी को देखते और समझते हुए भारतीय मूल के एक शख्स ने प्राक्सिमिटी पाल (करीबी मित्र) नाम का डिवाइस तैयार किया है। यह रोजमर्रा की जीवनशैली के दौरान आपको शारीरिक दूरी बनाए रखने में मददगार साबित होगा। इस डिवाइस को भारतीय मूल के विग्नेश मुरुगन ने जोल कुपरहोल्ज के साथ मिलकर बनाया है। दोनों ने ऑस्ट्रेलिया में विमाना टेक के नाम से स्टार्टअप शुरू किया है। वे बताते हैं कि उन्हें एक शख्स ने पूछा कि कैसे वे कोविड-19 महामारी के दौरान अपने कर्मचारियों को सुरक्षित रख सकते हैं। जिसके बाद दोनों ने डिवाइस बनाने के लिए साथ आने का निर्णय लिया।इसके संस्थापकों के अनुसार यह डिवाइस तीन स्तरीय सिद्धांतों पर कार्य करता है। यह इसे पहनने वालों को बताता है कि वे सुरक्षित हैं या वे ग्रीन जोन में हैं। यह दूसरों के बहुत करीब जाने पर निश्चित ध्वनि द्वारा सचेत करता है और बताता है कि वे यलो जोन में हैं। जबकि न्यूनतम दूरी को पार करने के बाद यह चेतावनी स्वरूप लगातार निश्चित ध्वनि निकालता है। इसका अर्थ है कि आप रेड जोन में पहुंच चुके हैं। इस डिवाइस की कामयाबी इस बात में छिपी है कि यह विशेष क्षेत्र में सभी लोगों के द्वारा पहना जाना चाहिए। एक ऑफिस या फिर यहां तक की बाहर भी यह लोगों को सचेत कर सकता है। इसे पहनने वाले व्यक्तिों के लिए यह जरूरी है कि वे न्यूनतम 3 मीटर की दूरी रखें। तभी आप ग्रीन जोन में रह सकेंगे। 2 मीटर की दूरी होने पर यह डिवाइस पीली चमकती रोशनी के साथ चेतावनी देने वाली ध्वनि के माध्यम से सचेत करता है। यह ध्वनि बताती है कि आप किसी व्यक्ति के बहुत करीब हैं। वहीं 1.5 मीटर की दूरी होने पर चेतावनी वाली ध्वनि के साथ लगातार लाल बत्ती चमकने लगती है। साथ ही डिवाइस में कंपन होने लगता है। यह इसे पहनने वाले को बताता है कि न्यूनतम शारीरिक दूरी का उल्लंघन किया गया है और अब आपको दूर जाने की जरूरत है।यह डिवाइस सभी तरह के व्यवसायों के लिए डिजाइन किया गया है। विभिन्न व्यवसायों के सुचारू रूप से कार्य करने के लिए इसके कर्मचारियों का काम पर होना और बिना किसी परेशानी के काम करना जरूरी होता है। ऐसे में कोरोना वायरस से कर्मचारियों को बचाने की चुनौती से पार पाने के लिए ऑफिस, कंस्ट्रक्शन से जुड़े व्यवसायों और रिटेल व्यवसायों में यह डिवाइस उपयोगी हो सकता है। विग्नेश मुरुगन एस्ट्रोफिजिक्स और जोएल इंजीनियरिंग की पृष्ठभूमि से आते हैं। विग्नेश का कहना है कि मैंने कभी भी किसी के साथ बिजनेस करने की कल्पना तक नहीं की थी बल्कि मैं तो एस्ट्रोफिजिक्स में पीएचडी करने जा रहा था।इसके संस्थापकों का दावा है कि यह डिवाइस इसे पहनने वालों को ट्रैक नहीं करता है। उपयोगकर्ता को चेतावनी देने के लिए यह आसपास के क्षेत्र में एक और डिवाइस की उपस्थिति को ट्रैक करता है।

सम्बंधित ख़बरें