मां दुर्गा के महत्व की तुलना राम नवमी से नहीं की जा सकती

www.mahamediaonline.comकॉपीराइट © 2014 महा मीडिया न्यूज सर्विस प्राइवेट लिमिटेड

कोलकाता  [महामीडिया ] नोबेल पुरस्कार से सम्मानित अर्थशास्त्री अमर्त्य सेन ने कहा है कि ?मां दुर्गा? के जयकारे की तरह ?जय श्री राम? का नारा बंगाली संस्कृति से नहीं जुड़ा है ।बीते शुक्रवार को कोलकाता के जाधवपुर विश्वविद्यालय में एक कार्यक्रम के दौरान अमर्त्य सेन ने कहा, ?इन दिनों देश में जय श्री राम का नारा लोगों को पीटने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है ।  मैंने इससे पहले इस तरीके से जय श्री राम का नारा नहीं सुना ।मेरा मानना है कि इस नारे का बंगाली संस्कृति से कोई लेना-देना नहीं है  । ?उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में राम नवमी का त्योहार मनाया जा रहा है और यह लोकप्रिय भी हो रहा है ।उन्होंने कहा, ?मैंने अपनी चार साल की पोती से पूछा कि उसके पसंदीदा भगवान कौन हैं? उसने जवाब दिया कि मां दुर्गा. मां दुर्गा हमारी  जिंदगी में  सर्वव्यापी हैं  मां दुर्गा के महत्व की तुलना राम नवमी से नहीं की जा सकती है ।
  ?