अगस्त में रेपो रेट में कटौती कर सकता है रिजर्व बैंक

www.mahamediaonline.comकॉपीराइट © 2014 महा मीडिया न्यूज सर्विस प्राइवेट लिमिटेड

नई दिल्ली (महामीडिया) भारतीय अर्थव्यवस्था को गति देने के लिये भारतीय रिजर्व बैंक लगातार चौथी बार रेपो रेट में कटौती कर सकता है। अगस्त के पहले सप्ताह में होने वाली मौद्रिक नीति समिति की बैठक में आरबीआई यह घोषणा कर सकता है। जून में रिजर्व बैंक ने तीसरी बार रेपो रेट घटाया था। ऐसा एशिया सहित वैश्विक अर्थव्यवस्था में छाई मंदी को दूर करने के लिए अधिकतर देशों के केंद्रीय बैंक ने किया था। करीब एक दशक बाद भारतीय रिजर्व बैंक की रेपो रेट 5.75 फीसदी पहुंची थी। 17 से 24 जुलाई के बीच 66 अर्थशास्त्रियों में कराए सर्वे में 80 फीसदी ने अगस्त में एक बार फिर मुख्य ब्याज दर में कटौती का अनुमान जताया। 
उन्होंने कहा कि आरबीआई 0.25 फीसदी घटाकर रेपो रेट को 5.50 फीसदी पर ला सकता है। तीन अर्थशास्त्रियों ने कहा कि इस बार 50 आधार अंकों की कटौती हो सकती है, जबकि 10 ने यथास्थिति बरकरार रखने का अनुमान जताया। कैपिटल इकोनॉमिक्स के एशियाई अर्थशास्त्री गेरेथ लीथर ने कहा कि महंगाई में नरमी और विकास दर की सुस्ती को देखते हुए एक और कटौती होने जा रही है।
इतना ही नहीं 2020 की शुरुआत में एक बार फिर रेपो रेट नीचे आएगी और 5.25 फीसदी पर अगले एक साल तक स्थिर रहेगी। गौरतलब है कि आरबीआई ने फरवरी, अप्रैल और जून में लगातार तीन बार 0.25 फीसदी की कटौती की है।