कच्चा पपीता स्वास्थ्य के लिये बेहद फायदेमंद

www.mahamediaonline.comकॉपीराइट © 2014 महा मीडिया न्यूज सर्विस प्राइवेट लिमिटेड

भोपाल (महामीडिया) पपीता हमारी सेहत के लिए बहुत फायेदमंद होता है। वजन कम करना हो या पेट की कोई भी समस्‍या पपीता रामबाण की तरह काम करता है। पपीते में प्रोटीन, पोटैशियम, फाइबर और विटामिन ए जैसे अनेकों पोषक तत्व पाये जाते हैं, जो शरीर के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं। इसमें मौजूद विटामिन हमें कई तरह बीमारियों से दूर रखने में मदद करते हैं। खासतौर पर कच्‍चा पपीता महिलाओं के लिए बेहद फायदेमंद होता है। यह महिलाओं की 1 नहीं बल्कि 7 बीमारियों को दूर करने में अद्भुत तरीके से काम करता है। इसे आप चटनी, सब्जी, सलाद और पराठे के रूप में खा सकती हैं।
वजन कम करने में सहायक : जो लोग अपने बढ़ते वजन से परेशान हैं उन्हें कच्चा पपीता खाना चाहिए। पके हुए पपीते के मुकाबले इसमें ज्यादा सक्रिय एंजाइम होते हैं जो फैट को कम करने में सहायक हैं।
विटामिन की कमी दूर : कच्चे पपीते के सेवन से विटामिन की कमी को दूर किया जा सकता है। कच्चा पपीता विटामिन ए, बी, सी और ई का बड़ा स्रोत होता है। इसके नियमित सेवन से शरीर में इन तत्वों की कमी की पूर्ति की जा सकती है।
कब्ज की समस्या से छुटकारा : कच्चे पपीते में भरपूर मात्रा में फाइबर होता है जो कब्ज की समस्या से छुटकारा दिलाता है। इसमें ऐसे एंजाइम पाए जाते हैं जो पेट में गैस बनने से रोकते हैं और पाचन में सुधार करते हैं।
मधुमेह के इलाज में सहायक : अगर आप मधुमेह की बीमारी से पीड़ित हैं तो कच्चा पपीता खाइए। कच्चे पपीते का जूस पीने से रक्त शर्करा के स्तर को कम किया जा सकता है। यह शरीर में इंसुलिन की मात्रा को बढ़ाता है।
कैंसर से बचाव : कई रिसर्च में पाया गया है कि कच्चे पपीते को रेगुलर खाने से कैंसर का खतरा कम होता है। इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट, फीटोन्यूट्रिएंट्स और फ्लेवोनॉयड्स पाए जाते हैं, जो शरीर में कैंसर सेल्‍स को बनने से रोकने का काम करते हैं। जिससे कैंसर का खतरा कम हो सकता है।
इम्‍यूनिटी को मजबूत बनाएं : कमजोर इम्‍यूनिटी के कारण हम आसानी से बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं। जी हां मौसम में हल्‍के से बदलाव से ही तुरंत बीमार हो जाते है। लेकिन अगर आप डाइट में कच्‍चे पपीते को शामिल करती हैं तो आप अपनी इम्‍यून सिस्‍टम को मजबूत बना सकती हैं। कच्चे पपीते में विटामिन ए, सी और ई होता है, जो शरीर के इम्यून सिस्टम को मजबूत बनता है। इसमें मौजूद विटामिन सी तनाव को दूर करता है। तनाव दूर हरने से भी आप बीमारियों से दूर रहती हैं।
अर्थराइटिस का दर्द दूर करें : कच्चे पपीते का सेवन जोड़ों के दर्द को दूर करने में भी बहुत फायदेमंद है। कच्‍चे पपीते में मौजूद एंटीऑक्‍सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण अर्थराइटिस के दर्द को दूर करने में मदद करते हैं। इसके लिए आप 2 लीटर पानी उबाल लें। फिर इसमें पपीते को धोकर, बीज निकालकर पानी में 5 मिनट तक उबालें। अब 2 चम्मच ग्रीन टी की पत्तियां डालें और थोड़ी देर तक उबलने दें। अब इसे छानकर बोतल में भर लें। दिनभर इस पानी को पीतें रहें। आपको कुछ दिनों में ही आराम महसूस होने लगेगा।