1 अक्टूबर से SBI के नए सर्विस चार्ज लागू होंगे

www.mahamediaonline.comकॉपीराइट © 2014 महा मीडिया न्यूज सर्विस प्राइवेट लिमिटेड

नई दिल्ली (महामीडिया) देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक अपने कई सर्विस चार्जेज में बदलाव करने की तैयारी कर रहा है। एसबीआई ग्राहकों को मिनिमम बैलेंस के झंझट से मुक्त करने का प्लान कर रहा है। इस योजना के तहत बैंक अकाउंट में मंथली एवरेज बैलेंस मेंटेन नहीं कर पाने पर चार्ज में लगभग 80 फीसदी तक की कमी आ जाएगी। इसके अलावा एसबीआई एनईएफटी और आरटीजीएस जैसे डिजिटल मोड के जरिए ट्रांजेक्शन भी सस्ता करने का प्लान कर रहा है। जानकारी के अनुसार, एसबीआई के नए सर्विस चार्ज 1 अक्टूबर 2019 से लागू हो सकते हैं।
मेट्रो शहरों, पूर्ण शहरी इलाकों में फिलहाल एसबीआई ब्रांच में बैंक अकाउंट खुलवाने वाले लोगों को 5000 रुपये और 3000 रुपये तक तक मिनिमम मंथली एवरेज बैलेंस रखना जरूरी होता है। 1 अक्टूबर से यह बैलेंस घटकर दोनों इलाकों के लिए 3000 रुपये हो सकता है। 1 अक्टूबर से बैंक ब्रांच में एनईएफटी और आरटीजीएस से 10 हजार रुपए के ट्रांजेक्शंस पर कोई चार्ज नहीं लिया जाएगा।
1 अक्टूबर से उपभोक्ता मेट्रो शहरों के 6 एसबीआई एटीएम में से मैक्सिमम 10 बार फ्री डेबिट ट्रांजेक्शन कर सकेंगे। वहीं अन्य जगहों के एटीएम से मैक्सिसम 12 फ्री ट्रांजेक्शन कर सकेंगे। 
सेविंग्स बैंक अकाउंट रखने वाले खाताधारकों के लिए एक वित्त वर्ष में पहले 10 चेक फ्री होंगे। इसके बाद 10 चेक वाली चेकबुक 40 रुपये + जीएसटी और 25 चेक वाली चेकबुक के लिए 75 रुपये+ जीएसटी लिया जाएगा। सीनियर सिटीजन और सैलरी पैकेज अकाउंट्स के लिए चेक फ्री होंगे।