शारिरिक स्वस्थ रहने से मस्तिष्क के स्वास्थ्य में भी होता है सुधार

www.mahamediaonline.comकॉपीराइट © 2014 महा मीडिया न्यूज सर्विस प्राइवेट लिमिटेड

लंदन (महामीडिया) अल्जाइमर से बचाव के लिए एक शोध किया गया है। इसमें बताया गया है कि, नियमित व्यायाम करने से इस बीमारी से बचाव हो सकता है। अमेरिका की टेक्सास यूनिवर्सिटी के साउथवेस्टर्न मेडिकल सेंटर में यह शोध किया गया है। शोधकर्ता कैन ने कहा कि, यह अध्ययन उस परिकल्पना का समर्थन करता है कि शारिरिक स्वस्थ रहने से मस्तिष्क के स्वास्थ्य में भी सुधार होता है। इससे उम्र बढ़ने और बुढापा आने की प्रक्रिया को धीमा किया जा सकता है। वैज्ञानिकों का कहना है, शारीरिक रूप से तंदरुस्त रहने से भूलने की बीमारी अल्जाइमर से भी बचाव हो सकता है। अध्ययन के अनुसार नियमित रूप से व्यायाम करने से मस्तिष्क की सेहत को बेहतर करने और महत्वपूर्ण नर्व फाइबर्स में गिरावट रोकने में मदद मिल सकती है। मानसिक सेहत अच्छी नहीं रहने पर मस्तिष्क में नर्व फाइबर्स में तेजी से गिरावट आने लगती है। नतीजन याददाश्त कमजोर होने लगती है और तंत्रिका तंत्र संबंधी बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। विश्वविद्यालय के प्रध्यापक के मुताबिक, हृदय के लिए खराब आदतें आपके दिमाग के स्वास्थ्य पर भी नकारात्मक प्रभाव डालती है। इसलिए व्यायाम से हृदय के साथ भूलने की बीमारी अल्जाइमर से भी बचाव होता है।