अमरनाथ यात्रा को लेकर जम्मू-कश्मीर हाई कोर्ट आज फैसला लेगा 

अमरनाथ यात्रा को लेकर जम्मू-कश्मीर हाई कोर्ट आज फैसला लेगा 

जम्मू (महामीडिया) जम्मू-कश्मीर सरकार ने हाई कोर्ट को बताया है कि उसने बाबा अमरनाथ की यात्रा के सभी इंतजाम पूरे कर लिए हैं। वह अमरनाथ यात्रा कराने के लिए पूरी तरह तैयार है। भले ही यात्रा सीमित दिनों के लिए ही हो, लेकिन वह परंपरा को बनाए रखना चाहती है। हिंदुओं में इस यात्रा के लिए विशेष आस्था है। हालांकि, हाई कोर्ट यात्रा के बारे में मंगलवार को फैसला लेगा। सुनवाई वीडियो कांफ्रेंसिग के जरिए हुई है। कोरोना वायरस से उपजे हालात की वजह से एडवोकेट सचिन शर्मा ने हाई कोर्ट में जनहित याचिका दायर की थी। इसमें उन्होंने सरकार से पूछा था कि कोरोना संक्रमण के बीच यात्रा को लेकर क्या प्रबंध किए गए हैं?
इस पर सोमवार को हाई कोर्ट की चीफ जस्टिस गीता मित्तल और जस्टिस संजय धर की डबल बेंच में सुनवाई की गई। इसमें सरकार के एडिशनल एडवोकेट जनरल असीम साहनी ने सरकार का पक्ष रखते हुए कहा कि अमरनाथ यात्रा को लेकर सभी इंतजाम पूरे कर लिए गए हैं। यात्रा को लेकर प्रथम पूजन हो चुका है। अमरनाथ श्राइन बोर्ड के सीईओ एवं एडिशनल सीईओ पवित्र गुफा के दर्शन कर चुके हैं। बेशक यात्रा की अवधि सीमित होगी, लेकिन भगवान शंकर की पूजा के लिए सभी अनुष्ठान पारंपरिक तरीके से ही निभाए जाएंगे।
श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए सुरक्षाकर्मियों की कोई कमी नहीं है। सुरक्षा एजेंसियों में आपसी समन्वय एवं तालमेल बना हुआ है। उन्होंने कहा कि भले ही यात्रा को चरणबद्ध तरीके से शुरू किया जाए, लेकिन यात्रा की परंपरा कायम रहेगी। चाहे यात्रा सीमित अवधि की ही क्यों न हों।
 

सम्बंधित ख़बरें