कल हस्त नक्षत्र और सिद्धि योग में मनेगा गंगा दशहरा

कल हस्त नक्षत्र और सिद्धि योग में मनेगा गंगा दशहरा

भोपाल [महा मीडिया ]ज्येष्ठ मास के शुक्लपक्ष की दशमी तिथि 1 जून को हस्त नक्षत्र और सिद्घि योग में गंगा दशहरा का पर्व मनाया जाएगा। दशमी तिथि इस बार 31 मई को शाम 5 बजकर 36 मिनट से प्रारंभ होकर 1 जून को दोपहर 2 बजकर 57 मिनट तक रहेगी। गंगा दशहरे पर गंगा स्नान करने से मनुष्य के 10 प्रकार के पापों का नाश होता है। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार गंगा दशहरा दस शुभ वैदिक गणनाओं के लिए मनाया जा सकता है। गंगा दशहरे में विचारों, भाषण और कार्यों से जुड़े दस प्रकार के पापों को धोने की गंगा की क्षमता है। दस वैदिक गणनाओं में ज्येष्ठ माह, शुक्लपक्ष, दसवां दिन, गुरुवार, हस्त नक्षत्र, सिद्धि योग, आनंद योग और कन्या राशि में चंद्रमा और वृषभ राशि में सूर्य शामिल हैं। मान्यता ऐसी है कि इस दिन मां गंगा की पूजा करने से मनुष्य को मोक्ष की प्राप्ति होती है। माना जाता है कि इसी दिन गंगा पृथ्वी पर अवतरित हुई थी।

सम्बंधित ख़बरें