कुरुक्षेत्र में सूर्यग्रहण के दिन ब्रह्म सरोवर पर अनुष्‍ठान और यज्ञ जारी

कुरुक्षेत्र में सूर्यग्रहण के दिन ब्रह्म सरोवर पर अनुष्‍ठान और यज्ञ जारी

कुरुक्षेत्र [ महामीडिया ] कुरुक्षेत्र में ग्रहण अपने चरम के करीब है और पैनोरामा में इसका प्रसारण किया जा रहा है। धर्मनगरी में ब्रह्म सरोवर पर तीर्थ पुरोहित और देश भर से आए संत धार्मिक अनुष्‍ठान व यज्ञ कर रहे हैं। आम श्रद्धालुओं को ब्रह्म सरोवर आने की इजाजत नहीं है, लेकिन 200 संत व तीर्थ पुरोहितों को इसकी अनुमति दी गई है।  ब्रह्म सरोवर पर अनुष्ठान में स्वामी गुरुशरणानंद महाराज ओर गीता मनीषी ज्ञानानंद  महाराज भी यज्ञ में भाग ले रहे हैंमुख्‍यमंत्री मनोहर लाल भी वीडियो कांन्‍फ्रेंसिग के माध्यम से अनुष्ठान से जुड़े। उन्होंने प्रदेश और देश के लोगों को अपना संदेश दिया! स्वामी गुरुशरणानंद महाराज ने कहा कि सूर्य ग्रहण का प्रभाव अकेले मानव व भारत पर ही नहीं पूरे विश्व की संपूर्ण मानव जाति, प्राणी और वनस्पतियों पर भी प्रभाव पड़ता है। यह अनुष्ठान विश्व कल्याण और शांति के लिए किया गया है। स्वामी ज्ञानानंद जी महाराज ने कहा कि आज का सूर्य ग्रहण अपने दिन में यानी रविवार को हुआ है। इस कारण यह अनोखा है। ज्ञानानंद महाराज ने कहा कि भगवान श्रीकृष्ण ने द्वापर में सूर्यग्रहण पर कुरुक्षेत्र के ब्रह्मसरोवर में डुबकी लगाई थी।

सम्बंधित ख़बरें