अयोध्या राम मंदिर में पत्थर तराशने का काम दूसरी कंपनी को दिया जायेगा

अयोध्या राम मंदिर में पत्थर तराशने का काम दूसरी कंपनी को दिया जायेगा

अयोध्या [ महामीडिया ]जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र की मंदिर निर्माण समिति की  हुई बैठक में कई अहम फैसले लिए गए। जानकारी के अनुसार रामजन्मभूमि पर मंदिर निर्माण का महत्वपूर्ण दायित्व लार्सन एण्ड टुब्रो  ही संभालेगी। फिर भी मंदिर निर्माण के लिए पत्थरों की जिम्मेदारी किसी दूसरी विशेषज्ञ एजेंसी को सौंपी जाएगी। इसके लिए एक्सपर्ट एजेंसियों से बातचीत भी शुरू हो गयी है। इसी एजेंसी की ओर से तराशे जा चुके पत्थरों पर जमी काई को साफ भी कराया जाएगा। बताया गया कि काई छुड़ाने के लिए अत्यधिक सावधानी की जरूरत है अन्यथा पत्थरों को क्षति पहुंच सकती है।फिलहाल रामजन्मभूमि परिसर में पत्थरों की तराशी के लिए कार्यशाला स्थापित की जानी है। इसके साथ भारी भरकम मशीनों का आवागमन भी शुरू होगा। यही कारण है कि क्रांसिंग थ्री यानी कि क्षीरेश्वरनाथ महादेव मंदिर निकट मुख्य मार्ग से परिसर में मेकशिफ्ट स्ट्रक्चर तक करीब तीन सौ मीटर सम्पर्क मार्ग का निर्माण कराया जाएगा। इस सम्पर्क मार्ग के लिए टेण्डर हो चुका है। करीब एक करोड़ की लागत से बनने वाली इस सड़क के लिए कार्य प्रारम्भ हो चुका है ।
 

सम्बंधित ख़बरें